संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

बुधवार, 13 जुलाई 2011

एक अंकुर फुटा है





'




























एक अंकुर फुटा है
एक प्यार की बहार आए है
एक नया जीवन मेरी गोद में आने को है
उससे जो रिश्ता है ऐसे जुड़ जाता है जसे कोई
हमेशा से यहं है मेरे कर्म और श्रद्धा  का रिश्ता है
ममता का पहला पाठ होत्ता है
हर तकलीफ    में एक आनंद होता है
अच्छी सोच विचार का सेलाब होता है
नई उमंग और पूर्णता का एहसास होता है
मन के आस ऊपर उड़ने लगती है
नए नए जोश से अंग अंग प्रफुल  होत्ता है
हर माँ के मन में मिश्रित भाव उभरते रहते है
दर्द की आह के साथ प्यार के ही भाव होते है 




कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.