संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

सोमवार, 28 मार्च 2011

I am very much talented ....

I am so very talented .....really
when I write poem ..try to publish it ...in my own blog
When I Draw and paint no one get it... which work is done first
When I iron clothes.. I make good  curvy designs
When I decorate the house...difficult to find its  art exhibition or  house
I am  very much talented ....
When I cook food and serve food is international ...You get  all  taste of world
When I stitch a ruin dress .. I just make it new
When I drive the car ..everyone keep me on priority ....all set aside




शुक्रवार, 25 मार्च 2011

चाह




इस भीड़ में अपना अक्स  टटोलता  है
कहीं  खो गया मेरा साया
मेरी छोटी सी  ख्वाशियों  की फेरिस्त
पूरी नहीं हो पाई
जब कोई साया पूछता है तुम कहाँ
में अपनी परछायी  और आत्मा से जुदा हु
उस पल ख़ामोशी  पुकार रही  है
तुम खुद नहीं कोई और हो
एक चोला लपेट कर जी रहे हो
खुली सास में तकलीफ है
यहं सपन्दन की अभिव्यक्ति है
एक तड़प है पंख न पसारने की
बेचनी है ऊँचा उठने  की
जज़बात की कद्र की चाहत

रविवार, 20 मार्च 2011

होली की हार्दिक शुभकामना !!!



होली  की हार्दिक शुभकामना  !!!


मंगलवार, 8 मार्च 2011

नारी का दिन














नारी का दिन 
क्या सच में हम नारी को  वो दिन दे पाए है ?

क्या एक नारी ही नारी को सम्मान दे पाई  है ?
आज भी  क्या सास --बहु बेटी को एक मन पाई है 
क्या बेटी होके सब अपना पाते है 
क्या बेटे के खामियों को बहु की कमी बातने  से रोक पाते है 
क्या दिल से दहेज नहीं चाहते है ?
क्या जायदा पढ़ी  बीवी जायदा कमीने वाली बीवी को अपना पाते है ?
क्या बेटा बेटी को एक दर्जा दे पाते है ?
क्या बीवी को पार्लर  भेज कर बच्चा संभल सकते है ?
बीवी को खाना दे सकते बिना वजह के ?
क्या किसी लड़की को अच्छे से निकलने दे सकते है

क्यों लड़के लड़की का दिन की ज़रूरत है ...जो एक नहीं है अलग अलग है इनके परिवेश ..............


जो अच्छे थे वो हमेशा थे  ..पर मज़ा तब है जब कोई भी इनके उतर न  ढूंढे  ............
बहुत सी जगह नारी भी गलत होती है पर व्हो कही का गुस्सा किसी पे होता है 
अपना घर कोई नहीं बिगड़ना चाहता ..ताली दोनों हाथों से बजती है .........सबका प्यार पाना चाहते है 


इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.