संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

सोमवार, 21 जून 2010

मेरे पापा

आपने  अपना नाम दिया 
जीने का होसला दिया
नयी सोच और दिशा के साथ बढना सिखाया
जीवन के कठिन ताल मेल को असं बाना कर जीना सिखाया
सहज सुन्दर सुदूर सोच के धनी मेरे पापा ने
कभी नहीं कोई भेद भाव दिखाया
इतना प्यार दुलार दिया
कभी नहीं कोई हुकुम चलाया
एक अच्छा इन्सान बनाया
यह मेरी खुशनसीबी है आपको मेरा पापा बनाया

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.