संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

मंगलवार, 3 नवंबर 2009

ज़िन्दगी के लिए .

एक  साथ  जीने  के  लिए  क्या  चाहिए
थोडा पैसा, थोडा प्यार, थोडा सम्मान
एक घर जहाँ  शांति सुख और प्यार हो
हर जगह सुख शांति रहे
न पैसे की भूख  हो न लालच की  जगह
संस्कार हो , समाज में सर उठे के चलने की ईज्ज़त हो
सच को कहने का साहस  हो सचाई मानें की ताकत हो
आँखों  में बड़े ,बच्चे और नारी के लिए सम्मान हो
अपने रास्ते और मंजिल की पूरी जानकारी हो
हर फ़र्ज़ को निभाने का दम हो
कोई बुरी लत न हो
परिवार को बंधे रखने की कला हो
हर जाने को खुश करने का नुस्खा हो
हर मुश्किल को आस करने की  तरकीब हो
हर परिस्थिति  अपनाने और परिवर्तन स्वीकार हो
प्रभु  में सच्ची आस्था हो
बुद्धि और विवेक का संगम हो
कितना असं हो जाता है जीवन का  सफल होना
और  क्या  चाहिए इस छोटी से ज़िन्दगी के लिए .

5 टिप्‍पणियां:

अजय कुमार ने कहा…

एक साथ जीने के लिए क्या चाहिए
थोडा पैसा, थोडा प्यार, थोडा सम्मान
एक घर जहाँ शांति सुख और प्यार हो
सौ प्रतिशत खरी बात

नीरज गोस्वामी ने कहा…

सच कहा आपने..बहुत छोटी छोटी चीजें चाहिए होती हैं सुखी जीवन बिताने के लिए और हम बड़ी बड़ी चीजों के पीछे भाग कर उसे कभी प्राप्त नहीं कर पाते...बहुत प्रेरक रचना...बधाई..
नीरज

ओम आर्य ने कहा…

बहुत ही खुब्सूरत और सलोना ख्वाब की पल्के है जो आंखे खोलती तो है पर कब वह गिर जाती है पता ही नही चलता........एक सुन्दर रचना है और यह ख्वाब आपकी पूरी हो .....आमीन!

वन्दना ने कहा…

bailkul sahi baat kahi.......aur us thode se ko paane ke liye hi sari zindagi daudte rahte hain.

M VERMA ने कहा…

और क्या चाहिए इस छोटी से ज़िन्दगी के लिए .
पर क्या इतने पर ही ज़िन्दगी चल रही है
बहुत सुन्दर

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.